What is Deep Web in Hindi? Uses, Advantages and Disadvantages

 

Deep Web
Deep Web



इस article में हम देखेंगे कि Deep Web क्या होता है? लोग इसका इस्तेमाल क्यों करते है? और इसके क्या फायदे या नुक्सान हो सकते है। पहले के आर्टिकल में हमने internet के Surface Web के बारे में पढ़ा था जो कि इंटरनेट का केवल 10% ही होता है और वही Deep Web इंटरनेट का 90% होता है। इंटरनेट पर जो भी आप लोग search engine की मदद से search करते है तो उसे surface web कहते है और यह सब सबके लिए उपलब्ध होता है तो वही deep web में उल्टा है। जो कि हम आगे detail में जानेगे। 



Read -: 

What is Surface Web in Hindi? Advantages and Disadvantages
10 Interesting facts about the Internet in Hindi | Unknown Facts




What is Deep Web?

Deep Web इंटरनेट का एक ऐसा part है, जिसे search engine से नहीं प्राप्त किया जा सकता है। google पर deep web की websites index नहीं होती है। 

Deep Web पर जो websites होती है, उनमे private content store रहता है और यह content की चोरी न हो इसलिए इसे surface web यानी गूगल पर नहीं डाला जाता है। इस वेबसाइट में सरकार का डाटा store रहता है और यह वेब्सीटेस को वही लोग use कर सकते है, जो इन websites के मालिक हो या जिस इंसान के पास इन वेबस्टेस को access करने की permission हो। Deep Web की websites को access करने के लिए आपके पास URL और password होना चाहिए। 

अगर deep web के उदाहरण की बात करे तो वो web mail है, क्योकि जो भी इंटरनेट use है उन सबकी mail ID तो होगी ही और यह सब mails कभी भी गूगल सर्च में नहीं आता क्योकि यह सब deep web पर रखे जाते है। इसके साथ - साथ banking details, cloud storage, company के databases, social media accounts का content भी deep web पर ही store किया जाता है। 




Why do we use Deep web?

Internet पर काफी सारा content मौजूद है और उसमे से ज्यादातर content private और secret होता है जो किसी को पता नहीं चलना चाहिए और इसको कोई नहीं चाहेगा की उसका content गूगल सर्च इंजन के द्वारा दिखाया जाये, इसलिए इसको surface web के बदले deep web पर रखा जाता है ताकि कोई भी इस content तक न पहुँच पाए। यह content इंटरनेट सर्च से नहीं मिलेंगे। जैसे - आपकी net banking details सिर्फ आपको पता है और इस data को इंटरनेट पर available नहीं होना चाहिए वरना आपका bank account कोई भी access कर सकता है इसलिए इस तरह के data को deep web पर रखा जाता है। 




Advantages of Deep Web

Deep Web का सबसे बड़ा फायदे यह है कि इसमें जो भी content रहता है वो बिलकुल safe और private रहता है और इसके इंटरनेट पर होने के बाद भी कोई इसको access नहीं कर पाता। इसमें government का सारा data store रहता है या किसी bank की detais, इस content को देखने के लिए special permission होनी चाहिए। इसके links भी आसानी से नहीं मिलते है। अगर आप भी deep web को practical में देखना चाहते हो तो आपको Tor browser को अपने कंप्यूटर में install करना होगा और सिर्फ इसी की मदद से आप deep web को access कर सकते हो। लेकिन इस ब्राउज़र के बाद भी आपको links और credentials details चाहिए होती है। 




Disadvantages of Deep Web

इसके नुक्सान की बात करे तो इसमें हर कोई Anonymous रहके कुछ भी कर सकता है और उसको track करना भी बहुत मुश्किल होता है। Deep Web में ही एक छोटा सा हिस्सा है, जिसे लोग Dark Web के नाम से जानते है और dark web पर सारे illegal काम होते है। चाहे वो drugs dealing हो या किसी का murder करना, सारे गलत काम dark web पर किये जाते है। 




Thanks For Reading My Article



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ